Click to Download this video!

अनु आंटी के साथ छत पर सेक्स का मज़ा

हैल्लो दोस्तों, मेरा नाम महेश है और में महाराष्ट्र से हूँ। यहाँ बारिश बहुत अच्छी होती है और बहुत मज़ा भी आता है। मुझे बारिश में घूमना बाईक को तेज़ चलाना अच्छा लगता है। मेरी उम्र 28 साल है और अभी तक मेरी शादी नहीं हुई है। ये कहानी बिल्कुल सच्ची है और ये मेरी और मेरे घर के सामने रहने वाली आंटी के बारे में है। अब में आपको ज्यादा बोर ना करते हुए सीधा अपनी स्टोरी पर आता हूँ। पिछले महीने में और आंटी पूना गये थे, उनको हॉस्पिटल में चेकअप करवाना था तो में भी उनके साथ गया था। हम रेल्वे स्टेशन पर लेट गये और हमारी ट्रेन मिस हो गयी। फिर आंटी ने मुझसे कहा कि हम बस से चलते है, बस स्टेण्ड रेल्वे स्टेशन से बस थोड़ा ही दूर है तो में और आंटी बस के लिए चल पड़े और जब दोपहर के 1 बज रहे थे।

फिर हमको बस तो मिली लेकिन बस में भीड़ ज्यादा थी। फिर आंटी को एक सीट मिली तो वो वहाँ पर बैठ गयी, अब में उनके साथ खड़ा था। उस समय आंटी ने सलवार कुर्ता पहना हुआ था और वो भी ब्लू कलर का। अब में उनसे चिपककर खड़ा था। अब आंटी मुझसे चिपककर बात कर रही थी और सब आंटी को देख रहे थे और देखेंगे भी क्यों नहीं? वो इतनी कमाल की जो लग रही थी। वैसे आंटी की उम्र 38 साल है, लेकिन मेकअप करने से वो 30 साल की लगती है और उनके बूब्स 36 साईज के है और वो ड्रेस के नीचे ब्रा नहीं पहनती तो उनके निप्पल ड्रेस से साफ दिखते थे। अब में तो उनके निप्पल को देखकर पागल हो गया था, अब बस अपनी रफ़्तार पर थी और में अपने काम में मस्त था।

फिर एक स्टॉप पर बस रुकी तो आंटी ने कहा कि उनको वॉशरूम जाना है। फिर में उनके साथ नीचे उतरा और फिर आंटी वॉशरूम में गयी। अब में पीछे से उसकी गांड देख रहा था और अब मेरा लंड उसी वक़्त हरकत में आ गया था। फिर आंटी वॉशरूम से जैसे ही बाहर आई तो उन्होंने मेरी हालत देखकर एक सेक्सी स्माईल पास की और मेरा हाथ पकड़कर बस में ले गयी। फिर आंटी बोली थोड़ी देर तू बैठ जा में खड़ी रहती हूँ। फिर मैंने कहा ठीक है। अरे यार में उनका नाम लिखना भूल गया, उनका नाम अनिता है और आंटी मेरे बाजू में चिपककर खड़ी थी। फिर कुछ देर के बाद आंटी ने अपना एक पैर मेरे पैर से लगा दिया और हिलाने लगी। फिर ऐसा करते-करते हम पूना आ गये। फिर हम बस से उतरे और हॉस्पिटल की तरफ चल दिए तो डॉक्टर वहाँ पर आए हुए थे तो आंटी का काम जल्दी हो गया। फिर हम वहाँ से निकले, लेकिन ट्रेन को आने में टाईम था। फिर आंटी बोली कि अब क्या करे? फिर मैंने आंटी से कहा कि क्यों ना शनिवार वाडा देखने जाए? तो अब आंटी को मेरा प्लान अच्छा लगा।

फिर हम ऑटो से शनिवार वाडा गये जो कि पूना में बहुत मशहूर है, वहाँ ज्यादा भीड़ नहीं थी तो आंटी और में घूम रहे थे। अब नीचे घूमने के बाद हम ऊपर की तरफ गये, अब वहाँ हम दोनों के अलावा और कोई नहीं था। फिर मैंने मेरा मोबाईल निकाला और आंटी की कुछ फोटो लेने लगा। अब फोटो क्लिक करते वक़्त आंटी का दुपट्टा नीचे गिर गया तो आंटी ने उसे उठाने के लिए जैसे ही हाथ नीचे किया तो मुझे उनके रस से भरे बूब्स दिखाई दिए। फिर आंटी ने दुपट्टा उठाते वक़्त एक नज़र मेरी तरफ देखा तो में उनके बूब्स को देख रहा था तो आंटी सिर्फ़ इतना बोली कि अच्छा लगा, लेकिन में तो अब उनके बूब्स में खोया हुआ था और मेरा लंड बहुत ज्यादा टाईट हो गया था। फिर में और आंटी एक जगह बैठ गये और नॉर्मल बातें कर रहे थे कि आंटी ने मुझसे कहा कि तुम मुझमें क्या देख रहे थे? तो अब में क्या बोलता? फिर मैंने सीधा बोल दिया कि में आपके बूब्स देख रहा था, जिसने मुझे सुबह से पागल बना दिया है तो आंटी हंसने लगी और बोली तो हाथ भी लगाकर देखना।

फिर मैंने मेरी नज़रे यहाँ वहाँ घूमाकर देखा तो ऊपर हम दोनों के अलावा कोई नहीं था। फिर में आंटी के करीब गया तो आंटी ने मेरी कमर में हाथ डाला और मुझे अपनी तरफ ज़ोर से खींचा। फिर में बोला कि आंटी क्या कर रही हो? फिर आंटी बोली सिर्फ़ मुझे अनु बोल महेश और मुझे आज मत रोक में बहुत प्यासी हूँ। अब में आंटी के लिप पर किस करने लगा। अब हम एक दूसरे के लिप के साथ खेल रहे थे, तभी हमें किसी के ऊपर आने की आवाज़ आई तो हम दोनों अलग हो गये, लेकिन अब आंटी तो गर्म हो चुकी थी तो आंटी ने कहा कि महेश अब में और नहीं रूक सकती हूँ, मेरी चूत में पानी आ रहा है। फिर मैंने कहा कि अनु आग तो मेरे लंड में भी लगी है तुम्हारी चूत में कब डालूं? फिर अनु और में गंदी बातें करते करते रेल्वे स्टेशन पर आ गये। और फिर आंटी ने कहा कि महेश तुम इतनी अच्छी गंदी बातें कैसे करते हो? मेरा तो पानी निकला जा रहा है। फिर मैंने कहा कि आंटी थोड़ा और रोक कर रखो। फिर देखो कितना मज़ा आता है, उतने में एक फास्ट ट्रेन आई तो हम दोनों उसमें चढ़ गये और बैठ गये, क्योंकि उस ट्रेन में लोनवला के भी कुछ लोग थे।


Comments are closed.


error:

Online porn video at mobile phone


andhra sex storiessaaf chootdesi chut pornold hindi sexy storieshindi bahu ki chudaikutiya ki gand maristory of chudai hindisexy kahaniabahan ne jan bujh kar bhai ka shat sex kiya kahanichudai land chutgaandu saale ki chudakkad biwi ko khoob chodamallika ki chudaikhana banane vali aunty ko coda xxx kahani Hindi me bihar me chudaichudai specialbhabhi ke boorअम्मा को सोते हुए चोदा सच्ची घटनाnangi chudai kahanisambhog kalaकिराये के मकान रहने वाले सेक्सी भाभी चुत को चोदा कहानी या हिन्दीchut kahani comnayi naveli bhabhi ki chudaifree xxx chudaifree marathi sex storiessali ki chudai ki storynokarani sexantarvasna bahanlesbian chudai kahanibest hindi sexy storyपापा ने मेरी कची ऊमर मे गाँड फाङदीhindi ma sexरासलीला सेक्स कहानियाँ हिंदी भाबीmust chudai kahaniजेठ ने स्तन मे चोदाkajol ki chudai ki kahanisexy kahani bhai14 sal ki ladki ko chodachacha se chudiheroine ki chutchudai ki hindi sexy storydesi chudai realpatni aur sali ki chudaibhabi sexy storymrathi sexy storyporn book in hindichikni chut comchoot chudai ki kahanidesi baba kuwari sexkhaniyamere bhatije ki Antarvasnagaon ki ladki kisolapur sexchudai ke faydereal chudai story in hindigaand gaypyasi hawasland aur chut ka milanantarvasna latest storybhai bahan chudai story in hindidost ki bahan ki chutanter basnabahan ki chut comchudai hindi story downloadchut ladki kimaa ki chudai ki khaniyabhabhi ko chutchudai balatkar kahanimaine chodadesi marwadi sexyhindi kahani bahan ki chudaikajal ki chut marichachi story hindiindian sex ki kahanimarwadi chut ki chudaichod mujheaunty ki chudai desilund ki diwanividhava Didi ke kapade upar dekh Chote bhayi me choda dalasex story in hindi padosi ladke arun se chudikamukta photo