मैडम हो तो ललिता जैसी

Madam ho to Lalita jaisi:

मैं अपनी नौकरी से रिटायर होने वाला था मेरे बच्चे विदेश में ही रहते हैं इसलिए मुझे विदेश जाना था क्योंकि मैं घर पर अकेला ही रह गया था मेरी पत्नी का भी देहांत हो चुका है लेकिन मैं अपनी जॉब की वजह से अपने बच्चों के पास रहने नहीं जा पाया, मुझे चंडीगढ़ में रहते हुए काफी समय हो चुका है और मैंने चंडीगढ़ में ही घर बना लिया था। एक दिन मेरे बड़े लड़के का फोन आया और वह कहने लगा कि पापा आप कब आ रहे हैं, मैंने उन्हें कहा बेटा अभी तो मैंने रिटायरमेंट नहीं ली है बस कुछ समय बाद मैं रिटायर हो जाऊंगा तो तुम्हारे पास आ जाऊंगा लेकिन मेरे लिए यह समस्या भी थी कि मुझे इंग्लिश नहीं आती थी और मेरे बेटे ने मुझे कहा कि पापा आप कुछ दिनों के लिए किसी इंग्लिश स्पीकिंग कोर्स की क्लास में चले जाओ, मैंने उसे कहा बेटा लेकिन मुझे तो समय ही नहीं मिल पाता, वह कहने लगा कि कोई बात नहीं जब आपको समय मिलेगा तो आप चले जाना लेकिन मुझे समय ही नहीं मिल पाया इसलिए मैं इंग्लिश स्पीकिंग कोर्स जा ही नहीं पाया।

एक दिन मैंने एक इंग्लिश स्पीकिंग कोर्स के इंस्टीट्यूट में जाने की सोची और मैं जब ऑफिस से लौट रहा था तो मैंने उनसे बात की, वहां पर बैठी महिला ने मुझे अपने सर से मिलवाया वह शायद उनके सीनियर थे और उस इंस्टीट्यूट में वही सारा कुछ संभालते थे, मैंने उनसे कहा सर मुझे इंग्लिश नहीं आती है और मुझे अपने बच्चों के पास विदेशी रहने के लिए जाना है इसलिए मैं इंग्लिश सीखना चाहता हूं, वह कहने लगे कि आप हमें सिर्फ दो महीने का वक्त दीजिए हम आपको इंग्लिश सिखा देंगे, मैंने उन्हें कहा कि लेकिन आप लोगों ने तो यहां पर सिर्फ एक महीने का लिखा है, वह कहने लगे सर इसमें समय लग जाता है आपको कम से कम दो से तीन महीने लग जाएंगे। मैंने उनसे उनका कार्ड ले लिया और मैं घर लौट आया, मैंने अपने लड़के को फोन किया तो मैंने उसे सारी बात बताई वह कहने लगा पापा आप कब से क्लास ज्वाइन कर रहे हैं, मैंने उसे बताया कि अभी तो थोड़ा वक्त लग जाएगा और मैं कुछ दिनों बाद रिटायर होने वाला हूं उसके बाद मैं क्लास ज्वाइन कर लूंगा।

मेरी रिटायरमेंट का समय भी नजदीक आ गया और जिस वक्त मैं रिटायर हुआ तो उस दिन मैंने अपने स्टाफ के लिए पार्टी रखी थी, मैंने एक होटल बुक किया था और वहां पर ही मैंने सारा अरेंजमेंट करवाया था क्योंकि मेरे घर पर कोई भी ऐसी व्यवस्था नहीं थी इसलिए मुझे बाहर ही सारा कुछ अरेंजमेंट करवाना पड़ा और मैंने अपनी रिटायरमेंट की पार्टी बड़ी ही धूमधाम से की, मैंने अपने बच्चों को फोटो भी भेजी तो वह लोग खुश हो गए और कहने लगे कि पापा हम लोग बहुत मिस कर रहे हैं लेकिन हम लोगों का आना नहीं हो पाया, मैंने उन्हें कहा कोई बात नहीं बेटा मैं कुछ दिनों बाद ही तुम्हारे पास आ जाऊंगा। अब मेरी असली परीक्षा की घड़ी शुरू होने वाली थी मुझे इंग्लिश बिल्कुल भी नहीं आती थी और मैंने इंग्लिश इंस्टीट्यूट ज्वाइन कर लिया वहां पर जब मैं पहले दिन गया तो मैंने अपनी फीस भरी और उसके बाद मैं वापस घर लौट आया, उस दिन तो मैं ज्यादा देर नहीं रुका क्योंकि मुझे उस दिन कुछ और काम था अगले दिन से मैं सुबह के वक्त जाने लगा मैं सुबह 9:00 बजे जाया करता और सबसे पहले का बैज हमारा ही था। जब मैं पहले दिन क्लास में गया तो सब लोगों का परिचय हुआ वहां पर मेरी तरह ही और भी लोग आए हुए थे जिन्हें की इंग्लिश में बहुत दिक्कत थी हमें जो मैडम क्लास पढ़ाती थी उनका नाम लता है, उन्होंने सब से पूछा कि आखिरकार आप यहां पर क्यों आए हैं, मैंने भी अपना जवाब दिया मैंने उन्हें कहा कि मुझे अपने बच्चों के पास विदेश रहने के लिए जाना है और अब मैं वहीं सेटल होना चाहता हूं इसलिए मुझे इंग्लिश सीखनी है, वह कहने लगी चलिए यह तो बहुत अच्छी बात है और भी सब लोगों के ऐसे ही मिलते जुलते जवाब थे, जब मैंने इंग्लिश क्लास ज्वाइन की तो मुझे इंग्लिश में दिक्कत हो रही थी, मुझे 10 दिन हो चुके थे और मुझे ऐसा कुछ भी नहीं लगा था कि मैं इंग्लिश सीख पाऊंगा, मैंने एक दिन मैडम से कहा कि मैडम मुझे तो कुछ भी समझ नहीं आ रहा मुझे नहीं लगता कि मैं इंग्लिश सीख पाऊंगा, वह कहने लगी आप अभी से हौसला क्यों हार रहे हैं अभी तो आपको काफी समय है और आप देखिएगा आप जरूर इंग्लिश में बात कर पाएंगे।

मैं घर पर भी इंग्लिश सीखने की कोशिश करता और अपने बच्चों से भी मैं इंग्लिश में बात करने लगा था धीरे धीरे मुझे थोड़ा बहुत लगने लगा कि मुझे इंग्लिश आने लगी है और मैंने एक दिन ललिता मैडम से कहा कि मुझे अब लगने लगा है कि मैं थोड़ा बहुत इंग्लिश में बात करने लगा हूं, वह मुझे कहने लगे कि यदि आपको एक्स्ट्रा क्लास चाहिए तो मैं आपको वह भी दे सकती हूं मेरे पति आप को पढ़ाने के लिए घर पर आ सकते हैं, मैंने ललिता मैडम से कहा मैडम आप अपने पति को मुझे पढ़ाने के लिए क्या भेज सकते हैं? वह कहने लगी क्यों नहीं यदि आप उनकी फीस दे सकते हैं तो मैं उन्हें कल ही आपके पास भेज देती हूं, मैंने मैडम से कहा ठीक है मैडम आप उन्हें मेरे पास भेज दीजिएगा। मैंने ललिता मैडम को अपने घर का पता दे दिया और उनके पति मुझे अगले दिन ही पढ़ाने आ गए उनके पति की इंग्लिश बड़ी ही जबरदस्त थी, मेरी जो कुछ भी समझ में नहीं आ रहा था उन्होंने मुझे कहा कि आप जल्दी ही इंग्लिश सीख जाएंगे, आप को जैसा मैं कहता हूं आपको वैसा ही करना पड़ेगा और उन्होंने मेरा बहुत हौसला बढ़ाया, सुबह के वक्त मैं इंग्लिश क्लास जाया करता और शाम के वक्त मुझे पढ़ाने के लिए ललिता मैडम के पति आ जाया करते।

अब मुझे थोड़ा बहुत लगने लगा था कि मैं इंग्लिश पहले से बेहतर बोलने लगा हूं मेरी अंग्रेजी पहले से बेहतर होने लगी थी ललिता मैडम भी मुझे कहने लगे कि अब आप पहले से बेहतर हो गए हैं और आप अच्छे से अंग्रेजी बोल पा रहे हैं। मैंने एक दिन अपने लड़के को शाम के वक्त फोन किया और उसे जब मैंने अंग्रेजी में बात की तो वह खुश हो गया और कहने लगा कि पापा आप तो अब पहले से बेहतर अंग्रेजी बोलने लगे हैं, मैंने अपने लड़के को कहा कि मैं कुछ दिनों बाद ही अपना वीजा अप्लाई करवा दूंगा, वह कहने लगे हां पापा आप कुछ दिनों बाद अपना वीजा अप्लाई करवा दीजिए। मैं भी बहुत खुश था मेरे लिए खुशी की बात यह है कि इतने समय से मैं अपने बच्चों से दूर था और अब मैं उनके पास रहने के लिए जाने वाला था, मैंने जब ललिता मैडम को इस बारे में बताया तो वह कहने लगी आप इमोशनल मत होये। उस दिन मैं बहुत ज्यादा इमोशनल हो गया था और मैं भावनाओं में बह गया, मैं जब मैडम से बात करता तो मुझे ऐसा लग रहा था कि जैसे मैं कुछ ज्यादा ही भावनात्मक हो गया था ललिता मैडम के पति मुझे कहने लगे कि सर आप पहले से अच्छी अंग्रेजी बोलने लगे हैं, मैंने उन्हें कहा हां सर यह सब आप की बदौलत ही हुआ है। मैंने एक दिन ललिता मैडम और उनके पति को डिनर पर इनवाइट किया उस वक्त मैंने बाहर से ही खाना ऑर्डर करवा दिया था वह लोग जब मेरे घर पर आए तो वह कहने लगे कि आपने बेकार में ही तकलीफ उठाई, मैंने उन्हें कहा कोई बात नहीं, ललिता मैडम पहली बार ही मेरे घर आई थी वह कहने लगे सर आपका घर तो बहुत बड़ा है, मैंने मैंने कहा बस यह प्रॉपर्टी मैंने बहुत पहले खरीदी थी। हम लोगों ने उस दिन साथ में डिनर किया और रात को वह लोग चले गए।

अगले दिन शायद ललिता मैडम के पति की तबीयत ठीक नहीं थी इसलिए वह मुझे पढ़ाने के लिए आ गई। ललिता मैडम मुझे पढ़ाने के लिए आई मैंने उनसे पूछा आज आपके पति नहीं आए। वह कहने लगी आज उनकी तबीयत ठीक नहीं है इसलिए मैं ही आपको पढ़ाने आ गई जब उन्होंने मुझे पढाया तो उसके बाद हम दोनों साथ में बैठ गए। वह मुझसे अपनी पर्सनल लाइफ के बारे में बात करने लगी मैं भी उनके पास बैठा हुआ था मैंने भी उनसे अपने बारे में बात की, मेरी पत्नी का देंहात काफी पहले हो चुका था और तब से मैं अकेला ही हूं। उन्होंने मेरे पैर पर हाथ रखा तो मैंने उनके हाथ को पकड़ लिया मैंने उनसे उस दिन कहा क्या आप मेरी शारीरिक जरूरतो को पूरा कर सकती हैं। वह कुछ नहीं बोली मैंने कहा मैं आपको उसके बदले पैसे दे सकता हूं मैंने उन्हें कुछ पैसे दिए तो वह मेरे साथ शारीरिक संबंध बनाने के लिए तैयार हो गई। मै उन्हें अपने बेडरूम में ले गया उन्होंने अपने सारे कपड़े उतार दिए उन्होंने लाल रंग की पैंटी और ब्रा पहनी हुई थी जिसमें कि वह बड़ी सेक्सी लग रही थी।

मैंने अपने हाथों से उनके शरीर को दबाना शुरू किया तो वह उत्तेजीत होते हुए कहने लगी आप जल्दी से मेरे साथ सेक्स कर लीजिए मुझसे अब कंट्रोल नहीं हो रहा है। मैंने भी जल्दी से उनकी चूत के अंदर अपने लंड को डालाते ही घुसा दिया उनको बहुत ज्यादा तकलीफ होने लगी वह कहने लगी मुझे बहुत ज्यादा दर्द हो रहा है। मै उन्हे तेजी से धक्के दिया जा रहा था मैंने इतनी तेज गति से उन्हें चोदना जारी रखा जिससे उनकी चूत के बुरे हाल हो गए लेकिन उनकी गांड मारने का भी मन होने लगा। मैंने उन्हें कुछ पैसे दे दिए मैंने मैडम से कहा आप मुझसे चाहे कुछ और पैसे ले लीजिए लेकिन आप मुझसे अपनी गांड मरवा लीजिए। मैंने अपने लंड पर तेल की मालिश की और मैंने अपने लंड को उनकी गांड में घुसाया तो वह चिल्लाते हुए कहने लगी आज पहली बार मैंने किसी से अपनी गांड मरवाई है लेकिन आपने मुझे पैसे का लालच दिया इसलिए मैं आपसे अपनी गांड मरवाने के लिए तैयार हो गई। मैं तेजी स धक्के दिए जा रहा था वह अपने चूतडो को मुझसे मिला रही थी। भला मैं कितनी देर तक उनकी गांड के मजे ले पाता जैसे ही मेरा वीर्य गिरा तो वह कहने लगी अब मैं चलती हूं मेरे पति मेरा इंतजार कर रहे होंगे और वह चली गई। अगले दिन से वह खुद ही पढ़ाने के लिए आने लगी और मै उन्हें चोदने के पैसे दे दिया करता लेकिन अब मैं विदेश आ चुका हूं मै मैडम को बडा मिस करता हूं।


Comments are closed.


error:

Online porn video at mobile phone


free hindi sex storieshindi sex bf filmsasur or bahu ki chudai storymeri gandi kahanishadi ki raat chudaikas ke chodababuji ne chodabhabhi sex kahanihindi vasnawww sali ki chudai comchoot lund ka milanaunty ki chudai story in hindiantarvasna padosidanger chudailand chut sexhindi sixy kahanichut aur lund ki kahani in hindibhabhi ke jalwebhabhi ko holi ke din chodapapa ne chodachudai bhabhi hindisex story hindi hindirekha bhabhi ki chudaikamukta indian hindi sexbhabhi ki chudai hindi sexy storyhot sex suhagratfree sex story in hindi fontchudai ki gandi kahani in hindiMaa ki chudai ka sapna pura hua antar vasanaभाभी ने लण्ड देख करwww.sexykahnibhbhishadi me maa ki chudaigori ki chudaibeti chudai baap sekahani meri chudai kichachi ki sex storypolice walimaa ko chod karhot chudai indianchut ki holiPORN MASTRAM KE HINDI SEXY KHANI SURVENT MALKINchut ki ladaichut and land ki ladaisexy story bhaisex with chachihindi sex stories in hindi onlyantarvasna gay storybalatkar ki kahani in hindidesi bur chudai videobur chudai sexladki ki chut mechoot mei lundsexy story auntyट्रेन में सेक्स स्कूल में पढ़ने वाले छात्रों का सेक्स वीडियो बाथरूमall chudai storybhai bahan sex kahani hindimousi ki chodaima ki chudai ki khaniindian gay sex storiesdownload hindi sex story bookchudai kahani balatkarसाली जीजा का सैकसी कहानीpunjabi sexstorychudasi chootwww hindi sexi story combed room me chudaixxx sex nandoi story in hindibhai chudaisiskiyaan lete hue sexy videofassa kar rishton mein chudai ki sitespurani girlfriend ko chodamummy ko choda hindi sex storysex aunty newmaa bete chudai ki kahaniaunty sexy storychachi ji ki chudaidedi ke chudaisasur se chudai kibahan ko patayaकथा भाभी किमौसी का भोषणाgandu kisex storytrain me chootchote bache ka sexchut ki story hindi mehindi font desi sex storiesantarvasna hindi chachimami ki sex videomama bhanji ki chudai storysun 2019 ki chudai ki kahani hindi memedm ki chudaiapni bahu ko chodachudai ki batemaa ko sote me choda