Click to Download this video!

ट्रेन में अजनबी से गांड मरवाई

Train me ajnabi se gaand marwai:

हेलो दोस्तों  | मेरा नाम सुभी है आज मैं आप लोगों को अपनी जिन्दगी की सच्ची घटना बताने जा रही हूँ | मेरी उम्र अभी सिर्फ 28 साल है | और अभी भी मेरे ऊपर जवानी का खुमार छाया है | वैसे मै आप लोगों को बता दूँ कि मै थोड़ी हॉर्नी किस्म की औरत हूँ | इसी लिए मेरे जवान होते ही मेरी सेक्स लाइफ शुरू हो गई थी | पहली बार मुझे मेरे बॉय फ्रंड ने एक कमरे में मेरी सील तोड़ी थी | उस दिन उसने मेरी सील तोड़ कर मुझे पूरी तरीके से जवान बना दिया था | अब तो बस मुझे लंड की भूख रहती है कि काश मुझे लंड मिले | पहले मै आप लोगों को अपने बारे में बता दूं |

मै राजस्थान से बिलोंग करती हूँ | और अभी 2 साल पहले मेरी शादी हुई है | बताना तो नही चाहिए फिर भी मैं बता देती हूँ | अपने फिगर के बारे में तो बता दूँ | मेरे बूब्स ज्यादा बड़े है ऐसा इसलिए है क्योकि मेरा पति मुझे बहुत चोदता है | वो मुझे हर बार एक नई पोजीसन में चोदता है | वो पोर्न फिल्मों को देख देख कर मुझे पे नए नए पोजीसन ट्राई करता रहता है | जिसे मैं भी बहुत एन्जॉय करती हूँ | वैसे मैं अपने पति की चुदाई से बहुत खुश हूँ | लेकिन फिर भी मैं किसी नए लंड के मिलने के मौके को नही छोडती हूँ | अपनी आदत से जो मजबूर हूँ | नए नए लंड लेने में मुझे बहुत ही ज्यादा मज़ा आता है |

जैसे कि शादी से पहले मैं कई लंडो की सवारी कर चुकी थी | इसी लिए नए नए लंडो से चुदने की आदत अभी तक नही गई | लेकिन जब से मै ससुराल आई हूँ तब से मुझे अपने पति के  लंड के आलावा किसी भी लंड के दर्शन तक नही हुवे | चलिए ये सब बातें बाद में करेंगे | पहले अपनी कहानी पर आती हूँ | आखिर आप को भी तो पढने में कुछ मज़ा आना चाहिए | हाँ तो चलते हैं जन्नत की सैर पर |

बात एक साल पहले की है | मै अपने ससुराल से माइके जा रही थी | मेरे पति अपने काम में व्यस्त होने की वजह से मेरे साथ नही जा रहे थे | उन्होंने ने मेरा टिकट आरक्षित करवा दिया था | शाम को मेरी ट्रेन थी | मैंने उस दिन जल्दी से अपना बैग पैक कर लिया था | मैं अपने माइके जाने के लिए बहुत ही एक्सैतेड थी | क्युकि मुझे अपने माइके गए हुवे करीब 1 साल हो गया था | शाम को मै एक घंटे पहले ही अपने पति के साथ रेलवे स्टेशन पहुँच गई |  जैसे ही ट्रेन आई मेरे पति ने मेरा बैग और सामान ट्रेन में रखवा दिया | मै बहुत खुश थी | तभी ट्रेन ने सीटी मारी | मेरे पति ट्रेन से उतर कर जाने लगे | मैंने उन्हें खिड़की से बाय किया | मुझे थोडा दुःख भी हो रहा था | क्योकि अब मै इतने दिन इनके बिना कैसे रहूंगी | मेरे पति मुझे बहुत ही ज्यादा प्यार करते हैं | लेकिन दूसरी सबसे बड़ी बात थी कि इतने दिन तक मुझे बिना चुदे ही रहना पड़ेगा |

अभी ट्रेन चलने लगी | मेरी बोगी पूरी ए सी थी | मेरी सीट नीचे की तरफ थी | मेरे सामने की सीट खाली पड़ी थी | मैंने सोचा काश कोई हैण्डसम सा लड़का आ जाए एस सीट पर तो मज़ा ही आ जाए | मेरी किस्मत बहुत ही अच्छी थी | दो स्टेसन के बाद एक स्टेशन पर ट्रेन रुकी | और एक हैण्डसम सा लड़का ट्रेन में चढा | वो उसकी ही सीट थी | मैं उसे देख कर बहुत ही खुश हुई | मैं उससे बातें करने की कोशिश करने लगी | वो भी बहुत ही स्मार्ट निकाला वो भी मुझसे बाते करने लगा | करीब एक घंटे की ही बातों में ही हमने बहुत कुछ बाते की | फिर हमने साथ में ही डिनर किया | फिर हम लेट गए | सारी लाइटें बंद हो गई | अचानक मेरा मन हुआ कि क्यों न इस सफर को यादगार बना दिया जाय |  मै चुपके से उसके सीट पर जाकर बैठ गई | और उसके शरीर पर हांथ घूमने लगी | मैंने सोचा वो सो चुका होगा | लेकिन ऐसा नही था वो जगा हुआ था | उसने झटके से मुझे अपनी तरफ खींचा और और अपने लिप्स मेरे लिप्स पर रख दिए और मुझे पकड़ के किस करने लगा |  मुझे झटका सा लगा | उसने मुझे जकड लिया था | वो धीरे से बोला जो तुम ढूंढ रही हो मै तुम्हे अभी दिलाता हूँ | मैं तो वैसे भी चुदने के लिए ही उसके सीट पर आई थी | आखिर मै भी इतने दिन से चुदासी थी तो मै भी उसका साथ देने लगी | कुछ देर किस करने के बाद  वो पीछे तरफ खिसक गया और मुझे भी अपनी ही सीट पर लिटा लिया | और जोर जोर से किस के साथ में मेरे पूरे सरीर पर हाँथ फेरने लगा | फिर अपने दोनों हाथों से मेरे बूब्स दबाने लगा | साथ ही वो मेरे पुरे शरीर पर किस करने लगा उसका लंड मेरे शरीर में टच हो रहा  था | तभी उसने मेरा हांथ अपने लोवर में डाल दिया और अपना लंड पकड़ा दिया | उसका लंड छुने से ही पता लग गया की वो मेरे पति से बड़ा था | मुझे  बहुत मज़ा आ रहा था | थोड़ी देर में उसने मेरी ब्लाउज के सारे हुक खोल दिए | और मेरे बूब्स को चूसने लगा | अब धीरे धीरे वो कब मेरी टांगो के पास पहुँच गया मुझे पता ही नही चला | उअने मेरी साड़ी औए पेटीकोट ऊपर उठाया और फिर जैसे ही उसने अपनी जीभ मेरी चूत पे रखी मेरी तो आह निकल गयी | वो अब कुत्तों की तरह मेरी चूत चाट रहा था | जैसे उसकी जीभ मेरे चूत के अन्दर जाती तो मुझे बहुत सुकून मिलता | इसी बीच मै मै झड गई और वो मेरा सारा पानी पी गया | और फिर अपनी जीभ से चाट कर मेरी बुर को अच्छे से साफ़ किया | अब वो मेरी साड़ी निकलने लगा मैंने मना किया | तो वो मन गया और बस पेटीकोट का नाडा खोल दिया | और मेरी चूत में उंगली करने लगा |

जैसा की मैंने बताया उसका लंड बहुत बड़ा था | भले ही मै उसके लंड को देख नही पा रही | लेकिन फिर भी मने चू का ही हिसाब लगा लिया था | मै मन ही मन बहुत खुश हुई | आज तो मेरी इतने दिनों बाद जम के चुदाई होने वाली थी | उसने अपना लंड बाहर निकाला और मुझे धक्का देकर लंड को मेरे मुंह की सीध में ले आया | और फिर मुंह में लेने के लिए बोला | मैंने भी देर न करते हुवे तुरंत उसका लंड मुंह में ले लिया और लॉलीपॉप की तरह चूसने लगी | उसे भी बहुत मज़ा आ रहा था | करीब 5 मिनट चूसने के बाद वो झड गया और अपना सारा माल मेरे मुह में ही छोड दिया  मैं भी उसका सारा माल झट से पी गई | उसके बाद तभी उसने मुझे पीछे  घुमाया और अपना लंड का सुपारा मेरी गांड पर रख दिया |  मैंने कहा ये क्या कर रहे हो | मैं गांड नही मरावाउंगी  मुझे बहुत दर्द होता है | तो उसने कहा ठीक है फिर रहन दो कुछ भी नही करूंगा | मेरी चूत में आग लगी थी मैंने कहा अच्छा ठीक है लेकिन फिर तुम मेरी चूत  भी मरोगे वो मन गया | और एक ही झटके में उसने अपना लंड पूरा मेरी गांड में पार कर दिया | मुझे बहुत दर्द हो रहा था | मैंने उसे हटाने की कोशिश की पर सब बेकार था| एक ही झटके में मेरी गांड फट चुकी थी |  फिर उसने अपना लंड अन्दर बाहर करना शुरु किया | थोड़ी देर बाद मुझे मज़ा आने लगा था | मै भी धीरे धीरे से आह्हह… आह्ह…. कर के उसका साथ देने लगी | क्युकि डर भी था की कोई जाग न जाए |   मै भी अपनी गांड तेज़ी से मरवा रही थी उसका लंड पूरा अन्दर तक जा रहा था |  कुछ देर तक ऐसे चोदने के बाद उसने  मेरी चूत भी मारी | लेकिन जैसे उसने मेरी गांड मारी वो मुझे हमेशा याद रहा | इसी बीच मै भी कई बार झड चुकी थी | करीब एक घंटे तक ये खेल चलता रहा | उसके बाद वो भी झड गया | फिर मैं उठ कर अपने सीट पर चली गई और सो गई |

सुबह जब मेरी नींद खुली तो देखा की सामने की सीट पर कोई नही था | पूछने पर पता चला कि वो लड़का एक स्टेशन पहले उतर गया | मुझे अफ़सोस हो रहा था कि काश मै उसका मोबाइल नम्बर ले पाती | मै आज भी विश करती हूँ की अगर वो मुझे दोबारा मिल जाए तो उससे एक बार गांड तो जरूर मरवाती | दोस्तों आप लोगों को मेरी कहाँ कैसी लगी ये कमेंट कर के जरुर बताइयेगा | मुझे इंतजार रहेगा | तब तक के लिए अलविदा |


Comments are closed.


error:

Online porn video at mobile phone


sex untyठनड मे चुत चूदाई ओर बुबस के दुध पिने का मजा रियल कहानियाaunty ki chudai desi kahanichut me viryasapna dancer sexychikni chudaibhut sexbhai ne jabardasti chodamami ki bur ki chudaichachi ka chutapni student ko chodaपत्नी की जगह बहिन को छोड़ाsachi desi kahanidesi chudai ki kahani in hindinangi bhabhi sexhindi chut sexxxxstory hindiladki ki gand may ladky nay pasab kar diay storiesbehan ne bhai se chudwayama ki moti gand maririston me chudai in hindichudai ki kahaniya freeladki ki gand marnaxxxkahanihot sex chootsavita bhabhi desi sex storiesक्लीन सेव चुत हिंदी स्टोरी कॉमmaa bete ki chudai storysex babhichudai story latestbhabi sex story hindibhai bahan sexy storywww.mastrama gay sex storynew chudai ki kahani hindidesi ladki chootmaa ki choot chudaitrain ki chudaisasur se chudai kihindi sex kahani photobhai behan ki sexgay sex ke kahane hindi me do gandu boy kasext storiesbhosdiShemale se maa ne chut chudaiचुदाई की दास्तान हिंदी मेंpapa ke jaane ke baad mumm.ko jabardasti sexy kahaanichodan kahaniआओ मूत दो मेरे चुत पर hindi vodeohindi blue film sitesachi sexy kahaniyahindi language chudaiMastram ki nayi chudai 2018 Muslim chut ki randi madarchodmausi ki ladki ko chodarandi story in hindihindi galti se gangbang storybahan chutlambi chudai videomaa ki chudai ki kahani in hindikuwari chut chudai ki kahaniindian bhabhi hindi sex storiesdesi saxihindi chudai story comantarvasna jabardasti chudaiindian sex stories maachudai randi storykaamkatha hindi videolund dikhaosiskariya lete hue chut me lund ghusate hue video and story siskariya lete hue kamaa ki chudai kahani hindimeri chudai comsex story in train hindibhabhi ki chudai newincest hindi kahaniमंदिर में मां को चोदा porn comic bhai behan ki chudai hindi storysex story bhai bahanchut ki chudai kahani hindimsn.nokrani.xxx.wwwsex story aunty ki chudaibhabhi ki gand mari sex storyबीबी चुदाइ का खेलmeri chudai hindi kahanisuhagrat me gand chudai kahaninew kamuktaxxx khaniya